BJP ने RSS के साथ मिलकर खोली देश भक्ति का प्रमाण पत्र बेचने की दुकान. एक टके से भी कम कीमत पर बिकेगी अब देश भक्ति.


Disclaimer: Articles on this website are fake and a work of fiction and not to be taken as genuine or true. इस साइट के लेख काल्पनिक हैं. इनका मकसद केवल मनोरंजन करना, व्यंग्य करना और सिस्टम पर कटाक्ष करना है नाकि किसी की मानहानि करना.
Share Button

क्या आपने किसी का खून किया है? क्या आपने किसी का रेप किया है? क्या आपने लाखों करोड़ों रुपयों का गबन किया है? क्या आप ने दंगे भड़काए है या फिर दंगो मे शामिल होकर हज़ारों लोगो को मारा है? या फिर आप किसी भी और तरह के बड़े से बड़े क्राइम में शामिल रहे हैं. तो घबराईए मत. आपका कोई कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता. कैसे?
आपको करना सिर्फ़ इतना है की आप अपने नज़दीकी BJP या RSS के दफ़्तर चले जाइए और वहाँ जाकर “भारत माता की जय” का 5-10 बार जाप करिए और आपको मिल जाएगा देश भक्त होने का प्रमाण पत्र जो ना सिर्फ़ आपको आपके किए हुए अपराधों से मुक्ति दिलाएगा बल्कि हो सकता है आपको आने वाले चुनावों में BJP का टिकेट भी मिल जाए.

जी हाँ, BJP ने RSS के साथ मिलकर खोली है देश भक्ति के प्रमाण पत्र बेचने की दुकान. यहाँ पर देश भक्ति को एक एक टके में बेचा जाएगा.

इन दुकानो से मिलने वाले देश भक्ति के प्रमाण पत्र दो तरह के होंगे. नॉर्मल और प्रीमियम.
अगर आपको देश भक्ति का नॉर्मल प्रमाण पत्र लेना है तो सिर्फ़ 5 से 10 बार ज़ोर ज़ोर से “भारत माता की जय” का नारा लगाना होगा और आपको हाथों हाथ यह प्रमाण पत्र मिल जाएगा.

bjp-rss-desh-bhakti-certificate-bharat-mata-ki-jay-satire
देश भक्ति के प्रमाण पत्र इस तरह के कागज पर इश्यू किए जाएँगे ताकि आपके गुनाहों और अपराधों पर परदा डाला जा सके.

और अगर आपको प्रीमियम प्रमाण पत्र चाहिए, तो 5 से 10 बार उँची उँची आवाज़ में “भारत माता की जय” बोलने के साथ साथ कुछ दिनों तक “मोदी मोदी” मंत्र का गुणगान करना होगा और यह प्रीमियम देश भक्ति का प्रमाण पत्र होगा आपका.

गौरतलब, है की बॉलीवुड के बदनाम अभिनेता श्री श्री अनुपम खेर इस प्रीमियम देश भक्ति के प्रमाण पत्र को पाने वाले देश के पहले व्यक्ति हैं जिनको यह प्रमाण पत्र BJP और RSS टीम ने उसी दिन इश्यू कर दिया था जिस दिन उन्होने अपने आप को नॅशनल टीवी चेनल पर मोदी का अफीशियल कुत्ता ओह.. माफ़ कीजिएगा, मेरा मतलब है, चमचा घोषित किया था.

जब हमारे रिपोर्टर इसकी पड़ताल करने के लिए नज़दीकी BJP और RSS प्रयोजित इस खास दुकान में पहुँचे तो देखा की दफ़्तर के स्वागत कक्ष में स्मृति ईरानी बैठी हैं. पूछने पर पता लगा की वे इस देश भक्ति की दुकान की मुख्य करता धर्ता हैं. वे ना सिर्फ़ इस प्रमाण पत्र को लेने की बारीक़ियाँ समझाती हैं बल्कि वे खुद ही इस प्रमाण  पत्र को अपने हाथों से लिख कर इश्यू करती हैं. जो और लोग हमे इस दफ़्तर में काम करते दिखे वे हैं, योगी आदित्यनाथ, साध्वी प्राची, गिरिराज सिंह, साक्षी महाराज और अमित शाह. बताया गया की अमित शाह ही खुद इस देश भक्ति की दुकान को संचालित करते हैं.

अंदर जाने पर हमने पाया की वहाँ तो देश की बड़े बड़े क्रिमिनल एक लाइन बना कर अपनी बारी का इंतेजार कर रहे हैं. बे सभी देश भक्ति का प्रमाण पत्र लेकर अपने आप को सभी गुनाहों और अपराधों से मुक्त करवाना चाहते थे. एक बंद कमरे में कुछ गुप्त कार्रवाई चल रही थी. हमारे रिपोर्टर ने जब झाँक कर देखा तो पाया को उन सभी देश भक्ति से प्रमाण पत्र को पाने के अभिलाशियों को एक जूते के तलवे चाटने की ट्रैनिंग दे जा रही थी. पूछने पर पता लगा की वे जूते किसी और के नहीं बल्कि खुद देश के प्रधानमंत्री मोदी और उनके मुख्य सहायक अमित शाह के हैं.

ताज़ा मिली जानकारी के अनुसार देश के किसी भी यूनिवर्सिटी या किसी भी स्कूल या कॉलेज के विधार्थीयों को यह प्रमाण पत्र इश्यू नही किया जाएँगे. वो भी तब तक जब तक की वे किसी दूसरी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में जाकर अपने आप को मुस्लिम या उस कॉलेज के स्टूडेंस्ट की वेशभूषा में डाल कर वहाँ भारत के खिलाफ कोई नारे बाजी नहीं करते या फिर शहर में दंगे भड़काने में कोई मुख्य भूमिका नहीं निभाते.

यह पाया गया की BJP और RSS द्वारा संचालित स्टूडेंट बॉडी ABVP के कार्यकर्ता,  विधार्थीयों से संम्बंदित इन सब कार्रवाइयों को अंजाम दे रहे हैं.
दूसरे, जिन लोगो के इस तरह के प्रमाण पत्र लेने से वंचित रखा गया है वह हैं हमारे देश के नॉर्थ ईस्ट भाग में रहने वाले लोग. ऐसा किसलिए, यह पता करने पर एक कार्यकर्ता ने बताया, “क्यूंकी वे तो चीनी या जापानी हैं तो हम उनको यह प्रमाण पत्र क्यूँ इश्यू करेंगे. और उपर से वह लोग इंसानो को भी खा लेते हैं”. लेकिन हमारे रिपोर्टर के यह सॉफ करने पर की यह सब तो ग़लत धारणाएँ हैं उन नॉर्थ ईस्ट के लोगों के खिलाफ जो की एक भारत का हिस्सा हैं – वे महाशय भड़क गये और वहाँ से चलते बने.

bjp-rss-nationalism-certificate-satire
देश भक्ति का प्रमाण पत्र लेने के लिए अपनी बारी का इंतेजार करते हुए.

आखिकार हमारे रिपोर्टर यह सच निकालने में सफल हो सके की वे देश भक्ति के प्रमाण पत्र इस देश में रहने वाले किसी भी अल्पसंख्यक को नहीं दे रहे.

साथ ही सभी लोगो जो की इस प्रमाण पत्र को खरीदने वहाँ पहुँचे हुए थे उनको एक स्पेशल ट्रैनिंग के तहत बताया जा रहा था की किसी भी तरह के अपराध या गुनाह को करते हुए, वे ज़्यादा से ज़्यादा भारत के तिरंगे झंडे का इस्तेमाल करें और इन नारों का प्रयोग करें, “भारत माता की जय”, “वन्दे-मातरम्” आदि आदि. ऐसा करने से वे सबसे बड़े देश भक्त साबित होंगे और कोई उनको उनके गुनाहों या अपराधों के लिए उन पर हाथ भी नहीं डाल पाएगा. यहाँ तक की इस देश का क़ानून भी अपने आप को नपुंसक बना लेगा और उन लोगो पर किसी भी तरह की कार्रवाई करने से गुरेज़ करेगा.

खैर, हम यह सच भी किसी तरह जानने में सक्षम हो सके की विजय मालया को भी 9000 करोड़ रुपये का गबन करने के बावजूद इस देश से इतनी सफाई से निकल दिया गया क्यूंकी उसने इन सभी नारों का प्रयोग करके अपने आप को देश भक्त साबित कर दिया था. इस तरह के और भी कई उदाहरण हमारे सामने आए जिनको जान कर हमारे रिपोर्टर बहुत ही निराश हो गये और चुपचाप वहाँ से भारी मन से वापिस आ गये.

आते आते हमारे रिपोर्टर की नज़र जब पड़ी तो पाया की देश भक्ति के प्रमाण पत्र लेने वालों की लाइन काफ़ी लंबी हो चुकी थी. इस लाइन में 99% से ज़्यादा कुत्ते अपनी पूछ हिलाते हुए खड़े नज़र आए.

Share Button

Did you like the above post? Why Not Share Your Opinion Below.

Add Comment