“ठोको ताली” कहने पर किसी के ना ताली बजाने से खफा हुए सिध्दू ने बीजेपी छोड़ी.


Disclaimer: Articles on this website are fake and a work of fiction and not to be taken as genuine or true. इस साइट के लेख काल्पनिक हैं. इनका मकसद केवल मनोरंजन करना, व्यंग्य करना और सिस्टम पर कटाक्ष करना है नाकि किसी की मानहानि करना.

अभी अभी नवजोत सिंह सिध्दू ने बीजेपी को छोड़ने को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. उनके मुताबिक, वे बीजेपी वालों से काफी नाराज़ है जिसके चलते उन्होंने बीजेपी को छोड़ने का कड़ा फैसला लिया.
खुद सिध्दू के मुताबिक, उनके बार बार ठोको ताली कहने के बावजूद बीजेपी वाले ताली नहीं बजाते थे, जिसकी वजह से सिध्दू उनसे खासे नाराज़ थे. यही असली कारण बना, सिध्दू के बीजेपी को छोड़ने का.

sidhu-quits-bjp-aap-thoko-taali
हमने जब बीजेपी के प्रवक्ता से इस पुरे मामले पर सफाई लेने की कोशिश की तो उन्होंने बताया की वे लोग मोदी जी की फ़र्ज़ी उपलब्दियों को फोटोशॉप में बनाने में इतने व्यस्त रहते हैं की वे सिध्दू जी के लिए तालियां नहीं मार सके. ताली तो दो हाथों से बजती है और बीजेपी वालों के तो दोनों हाथ में कंप्यूटर का कीबोर्ड और माउस था तो वे ताली कैसे बजाते.
उधर, उड़ती खबर यह आ रही है की सिध्दू शायद आम आदमी पार्टी को ज्वाइन करें. इसी बात की पुष्टि के लिए जब हम दिल्ली स्थित आम आदमी पार्टी के दफ्तर गए तो काफी दूर तक तालिओं की गडगडाट सुनाई दे रही थी. हमें बिना किसी से बात किये, यह बात एक डैम स्पष्ट हो गयी की हो न हो यह तालियां, सिध्दू जी के ठोको ताली के जवाब में आपियों द्वारा बजाई जा रही है जिससे यह सिध्दू सिद्ध होता है की सिध्दू आम आदमी पार्टी में ही जा रहे हैं.
ठोको ताली. 🙂

Loading...

Add Comment