काफ़ी समय से विदेश ना जा पाने के कारण प्रधानमंत्री मोदी का स्वास्थ्य बिगड़ा. ICU में किया गया भर्ती. अनुपम खेर ने संभाला कार्यभार.


Disclaimer: Articles on this website are fake and a work of fiction and not to be taken as genuine or true. इस साइट के लेख काल्पनिक हैं. इनका मकसद केवल मनोरंजन करना, व्यंग्य करना और सिस्टम पर कटाक्ष करना है नाकि किसी की मानहानि करना.

एक ताज़ा खबर के अनुसार प्रधानमंत्री का स्वास्थ्य ठीक ना होने के कारण उन्हे अस्पताल में भर्ती किया गया है. अभी तक हुई जाँच में यह पाया गया है की मोदी के स्वास्थ्य में गिरावट उनके काफ़ी समय से विदेश ना जा पाने के कारण हुई है. मोदी का इलाज कर रहे डॉक्टर्स ने यह खुलासा किया है. हालाँकि वह अभी ख़तरे से बाहर हैं लेकिन डॉक्टर्स कोई रिस्क नहीं लेना चाहते इसलिए उन्हे ICU में रखा गया है और उनके स्वास्थ्य पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है.

मोदी जी की अनुपस्थति में श्री अनुपम खेर ने देश के बतौर प्रधानमंत्री कार्यभार संभाल लिया है और वह तब तक इस पद पर बने रहेंगे जब तक की मोदी जी की तबीयत ठीक नही हो जाती या उनके पिछवाड़े पर लात मार कर उनको हटाया नही जाता.

modi-bad-health-satire
मोदी को अस्पताल में भर्ती करने से पहले मोदी अपने ward का निरीक्षण करते हुए.

बताया जा रहा है की डॉक्टर्स ने विदेश मंत्रालय के साथ संपर्क साध कर उनको फ़ौरन मोदी जी को विदेश भेजने का प्रबंध करने के लिए कहा गया है.

और साथ ही यह निर्देश दिए हैं की मोदी जी 10 दिन से ज़्यादा लगातार भारत में ना रहने दिया जाए क्यूंकी यह उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. डॉक्टर्स ने बताया की अगर समय समय पर मोदी जी विदेश के दौरे पर नहीं गये तो उनको दिल का दौरा पड़ने का ख़तरा है.

anupam-kher-funny
अनुपम खेर PM की कुर्सी पर बैठने के बाद कुछ इस अंदाज़ में दिखे.

आगे की मिली खबर के अनुसार विदेश मंत्रालय ने उनको जल्द ही विदेश भेजने की सारी तैयारियाँ कर ली हैं और जल्द ही उन्हे रवाना कर दिया जाएगा.

उधर अनुपम खेर जिन्होने वेकल्पिक तौर पे प्रधानमंत्री का कार्यभार संभाला था, ने अभी तक कोई भी काम नही किया. कार्यभार संभालते ही वह प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठ कर सिर्फ़ और सिर्फ़ “भारत माता की जय” का जाप कर रहें हैं. बात बात में अपनी देश भक्ति का गुणगान करने लगते हैं और कॉंग्रेस, आम आदमी पार्टी और अन्य विपक्षी पार्टियों के साथ साथ कन्हैया, JNU और राहुल गाँधी को गालियाँ देने लगते हैं.

BJP के सीनियर लीडर्स जोकि अनुपम खेर को PM की कुर्सी पर बैठा देख काफ़ी नाराज़ दिखे. उनमे से एक ने बताया की अनुपम खेर अपनी ही फिल्मों के dialogues को रट्टू तोते की तरह बोल बोल के लोगों को इंप्रेस करने के चक्कर में रहतें हैं जबकि सचाई यह है की उन्हे ज़मीनी हक़ीकत का कुछ भी नही पता और वह बस इसी फिराक में हैं की प्रधानमंत्री मोदी उन्हे कोई मिनिस्ट्री दे दे और उनका मिनिस्टर बनने का सपना साकार हो सके.

उस सीनियर BJP लीडर ने अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया की “जब हम सारी ज़िंदगी BJP में बिताकर भी कोई अच्छा पद या मिनिस्टर ना बन सके तो यह चू*ईया किस खेत की मूली है. “

उधर हमारे रिपोर्टर ने जब अनुपम खेर से उनके PM का कार्यभार संभालने को लेकर जब प्रशन किया तो उन्होने तपाक से जवाब दिया, “जैसे छोटे भाई को अनुज कहते हैं, वैसे ही छोटे PM को अनु(PM) कहते हैं.” यानी की साफ है के वह अपने आप को PM से कम नही समझते.
हमे समझ में आ गया की शायद BJP के उस सीनियर लीडर ने अनुपम खेर के लिए जिस शब्द का इस्तेमाल किया था वह काफ़ी हद तक सच था.

Loading...

Add Comment