RBI ने माना Modi का नोटबंदी (Demonetization) का Decision गलत. देश की Economy को हुआ भारी नुकसान.


Disclaimer: Articles on this website are fake and a work of fiction and not to be taken as genuine or true. इस साइट के लेख काल्पनिक हैं. इनका मकसद केवल मनोरंजन करना, व्यंग्य करना और सिस्टम पर कटाक्ष करना है नाकि किसी की मानहानि करना.
Share Button

RBI ने माना Modi का नोटबंदी Demonetization का Decision गलत. देश की Economy को हुआ भारी नुकसान. मोदी ने नोटबंदी से देश का सारा काला धन सफ़ेद करवा दिया. अब लोग मोदी को पूछ रहे हैं, किस चौराहे पर मिलोगे.
RBI, in its official report has agreed that PM Modi’s decision of Demonetization has not only failed but it has also affected country’s economic condition. Result of Notebandi is that all the Black Money of the country which was supposed to be caught, has been converted into white instead.
नोटबंदी के बाद 1000 रुपये के 8.9 करोड़ नोट नहीं लौटे। कुल 99 फीदसी नोट वापस आए है। आरबीआई ने कहा है कि नोटबंदी के बाद 1,000 रुपये के 1.4 प्रतिशत नोट को छोड़कर इस मूल्य के बाकी सभी नोट बैंकों में पास वापस आ गए हैं।
अब इसी को लेकर सवाल खड़े हो गए है कि क्या सारा कालाधन वापस आ गया है? जब 99 फीसदी चलन में रहे नोट वापस बैंकों में आये तो फिर इसमें से काला धन था क्योंकि सरकार का कहना था कि काला धन वापस नहीं आएगा। लेकिन 99 फीसदी करेंसी तो लौट आई। क्या नोटबंदी की वजह से सारा कला धन सफ़ेद हो गया?
इस तरह के आंकड़े आने के बाद पूर्व वित्त मंत्री ने सवाल खड़े किये कि ऐसा फैंसला लिया ही क्यों गया? आरबीआई को इस फैंसले के लिए शर्म आनी चाहिए। वहीँ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी ट्वीट कर लिखा कि 99 फीसद करेंसी वापस आ गई मतलब काला धन सफ़ेद हो गया? कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने ट्वीट करके लिखा कि नोटबंदी में चलन से बाहर किए गए 15,44,000 करोड़ रुपये के नोट में से 16,000 करोड़ रुपये के नोट वापस नहीं आए। ये काफी बड़ी राशि है लगभग 1 फीसदी। ऐसे में आरबीआई को शर्म आनी चाहिए जिसने नोटबंदी के फ़ैसले को लागू किया।

Share Button

Did you like the above post? Why Not Share Your Opinion Below.

Loading...