विजय मालया से प्रेरणा लेकर करोड़ों का लोन लेने के लिए भारतीयों बेंकों के बाहर लोगों का ताँता लगा.


Disclaimer: Articles on this website are fake and a work of fiction and not to be taken as genuine or true. इस साइट के लेख काल्पनिक हैं. इनका मकसद केवल मनोरंजन करना, व्यंग्य करना और सिस्टम पर कटाक्ष करना है नाकि किसी की मानहानि करना.

विजया मालया ने सभी भारतीय बेंकों के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है. ज़्यादातर लोन लेने वाले लोगों ने अपनी लोन राशि 1,2 5 या 10 लाख की बजाए 2000, 5000 या 9000 करोड़ के लिए आवेदन किया है. और ऐसे लोन लेने वाले 1-2 नहीं बल्कि हज़ारों लोगों का बेंकों के बाहर ताँता लगा हुआ है. उनका कहना है जब विजय मालया को इतना बड़ा लोन दिया जा सकता है तो वह भी बड़े लोन लेने के उतने ही हकदार हैं.

गौरतलब है की हाल ही में विजय मालया 9000 करोड़ के लोन का बकाया होने के बावज़ूद बिना वापिस किए इस देश से ही रफूचक्कर हो गया और सरकार और बेंक कुछ भी ना कर सके.
ऐसे में बेंको के लिए उन लोगो की भीड़ को समझाना और भी मुश्किल हो गया है. सभी बेंको के मेनेज़र्स ने फाइनान्स मिनिस्ट्री से इसमे दखल देके उनकी सहायता करने के लिए विनती की है.

vijay-mallya-people-banks
बेंकों के बाहर भारी भीड़ को नियन्त्रणत करता एक पुलिस वाला.

लेकिन देश के फाइनान्स मिनिस्टर श्री अरुण जैटली ने इस पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है, सहायता करना तो दूर की बात है.
ऐसे में इंडियन बेँक्स के लिए उन लोगो को समझना बड़ा ही मुश्किल हो गया है.

और कोई विकल्प ना होते देख, सभी बेंकों ने फिलहाल ऐसे बड़े लोन के आवेदन स्वीकार करने का निर्णय किया है. उनका कहना है फिलहाल वह लोन आवेदन स्वीकार करके बाद में ऐसे आवेदन को रिजेक्ट कर देंगे. लेकिन कुछ भी हो ऐसे में बेंकों का काम कई गुना बड़ गया है और जिसके लिए उनको शायद नये लोगो को भी भरती करना पड़े.

Loading...

Add Comment